इतने करोड़ खर्च, 12 सालों में काम अधूरा; ग्रेटर नोएडा से हापुड़ को जोड़ेगा l

16-Apr-24, 05:03:PM | 0 views, | 7 comments

इतने करोड़ खर्च, 12 सालों में काम अधूरा; ग्रेटर नोएडा से हापुड़ को जोड़ेग

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

26 किमी लंबा एक्सप्रेसवे कब बनेगा: इतने करोड़ खर्च, 12 सालों में काम अधूरा; ग्रेटर नोएडा से हापुड़ को जोड़ेगा l

  सार

दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में 12 साल बित जाने के बाद भी 26 किमी लंबे और 105 मीटर चौड़े एक्सप्रेसवे के निर्माण का काम आज भी अधूरा है। ये एक्सप्रेसवे ग्रेटर नोएडा से हापुड़ को जोड़ेगा। निर्माण से लाखों लोगों को लाभ मिलेगा।

  विस्तार

ग्रेनो प्राधिकरण की सबसे महत्वपूर्ण परियोजनाओं में शामिल 26 किमी लंबे और 105 मीटर चौड़े एक्सप्रेसवे पर 12 साल पहले 1,200 करोड़ रुपये खर्च करके भी जनता को इसका कोई लाभ नहीं मिल सका है। एक्सप्रेसवे पूरा होने से 50 से अधिक गांवों के एक लाख से अधिक लोगों को फायदा मिलेगा, साथ ही परी चौक से लेकर हापुड़ तक सफर कम समय में पूरा होगा। 12 साल में जमीन खरीदने के बाद प्राधिकरण इस परियोजना को एक कदम भी आगे नहीं बढ़ा पाया है। इसके अलावा बोड़ाकी में बनने वाला फ्लाईओवर का काम भी काफी समय से रुका है।

 

परी चौक से अल्फा, डेल्टा सेक्टर और गोल्फ कोर्स के सामने से 105 मीटर चौड़ा यह एक्सप्रेसवे जा रहा है। ग्रेनो प्राधिकरण ने एक्सप्रेसवे को साल 2011-12 में हापुड़ से जोड़ने के लिए 12 से अधिक गांवों को शामिल करते करीब 26 किमी लंबा मार्ग बनाने की योजना बनाई थी। हापुड़ और एनएच-24 से गढ़, ब्रजघाट, गजरौला व मुरादाबाद के लिए रास्ता सुगम होना था। इसके तहत जुनपत, बोड़ाकी, बील, अकबरपुर, आनंदपुर, उपरालसी और जारचा समेत 12 से अधिक गांवों के किसानों से सीधे जमीन खरीदी गई। इस पर 1200 करोड़ रुपये खर्च किए गए।

 

साल-2015 तक हापुड़ तक करना था एक्सप्रेसवे का निर्माण


ग्रेनो प्राधिकरण 105 मीटर चौड़े एक्सप्रेसवे को बनाने का लक्ष्य दिसंबर 2015 तक रखा गया था। इससे हापुड़ और एनएच-24 से गढ़, ब्रजघाट, गजरौला और मुरादाबाद शहरों के लिए आवागमन सुगम हो जाता। इस एक्सप्रेसवे के दोनों ओर स्कूल, अस्पताल, औद्योगिक सेक्टर और आवासीय सेक्टर बसाए जाने हैं। इस पर दोनों तरफ रेजिडेंशियल स्कीम और इंडस्ट्री के सेक्टर बसाए जाएंगे।

असंल बिल्डर को बनानी है सड़क


ग्रेनो प्राधिकरण ने एक्सप्रेसवे को हापुड़ तक जोड़ने के लिए योजना बनाई थी, लेकिन अंसल के साथ करार किया था कि रेलवे पर फ्लाईओवर बनाने के बाद अपने क्षेत्र में जीटी रोड तक बिल्डर को सड़क बनाना होगा। अंसल बिल्डर ने भी उक्त जमीन को किसानों से खरीद रखा है। काफी हद तक जमीन अंसल के कब्जे में भी है, लेकिन सड़क का आज तक निर्माण शुरू नहीं हो पाया है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Share This Post :




Comments




Add New Comment

Your comment has been queued for review by site administrators and will be published after approval.
Something is wrong please try again !!!





Top 10 Posts
World water Day 2024: World Water Day is being celebrated today, UNICEF…
कैंसर पीड़ित बताकर जुटाए लाखों फॉलोअर इंस्टाग्राम की सबसे बदनाम ठग पर…
14, 15 मार्च की परीक्षा के लिए भी जारी हुआ एडमिट कार्ड;…
साहिबी नदी की बात क्यों नहीं करते....जिससे मिलकर यमुना भी बन जाती…
आईपीयू एडमिशन 2024 आज आखिरी तारीख यूजी-पीजी प्रोग्राम में दाखिले के लिए…
राम नवमी की शुभकामनाएं अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को भेजें इन संदेशों…
जिंदा जले दस श्रद्धालु: कड़ा, कंगन... कुंडल और कपड़ों से हुई पहचान…
Delhi Bomb Threat: जांच में नहीं मिला कुछ स्कूलों के बाद अब…
वीरेंद्र सचदेवा बोले- देश में हिंदू होना क्या गुनाह है?
Delhi: 'अरविंद केजरीवाल को मारने की साजिश... दिल्ली मेट्रो में लिखी गईं…
Call Now : +91 93503 09890
| Email : parichaytimes@gmail.com
Follow On
1st Floor, Parichay Complex, 4-5, Madhuban Rd, Veer Savarkar Block, Dayanand Colony, Shakarpur, Delhi, 110092
@Copyright 2024 - Parichay Times

App Install