Badaun Case: भाभी मेरी पत्नी बीमार है 5000 रुपये दे दो, कत्ल से पहले कातिल ने मांगी थी मदद, पूरी कहानी

20-Mar-24, 12:00:PM | 0 views, | 0 comments

Badaun Case: भाभी मेरी पत्नी बीमार है..5000 रुपये दे दो, कत्ल से पहले कातिल ने मांगी थी मदद, पूरी कहानी

यूपी के बदायूं की बाबा कॉलोनी में मंगलवार रात करीब आठ बजे ठेकेदार विनोद ठाकुर के दो बेटों आयुष (13) और अहान (6) की धारदार हथियार से निर्मम हत्या कर दी गई। पुलिस ने आरोपी को मुठभेड़ में ढेर कर दिया। 

ठेकेदार विनोद ठाकुर ने मुख्य आरोपी साजिद और उसके भाई जावेद के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है। एसएसपी आलोक प्रियादर्शी के मुताबिक तहरीर में हत्या की वजह स्पष्ट नहीं है लेकिन विनोद का कहना है कि दोनों हत्यारोपी मंगलवार शाम उनके घर आए। जावेद घर के बाहर बैठा रहा और साजिद घर के अंदर पहुंचा। ठेकेदार की पत्नी ने बताया कि साजिद ने घर में आकर तीन क्लेचर लिए। जिसके उसने 45 रुपये लिए और पांच रुपये लौटा दिए। इसके बाद आरोपी ने उनसे पांच हजार रुपये मांगे। इस पर उन्होंने अपने पति को फोन करके साजिद द्वारा पांच हजार रुपये मांगने की जानकारी दी। इस पर पति ने साजिद को पत्नी से पांच हजार रुपये देने के लिए कह दिया। साथ ही कहा कि लड़का अच्छा है कल रुपये लौटा देगा। इस पर ठेकेदार की पत्नी ने साजिद से कहा कि तुम बैठों में चाय बना देती हूं। उसके बाद रुपये दे दूंगी।

 
 पत्नी चाय बनाने गई कि साजिद ने दोनों बच्चों को छत पर ले गया। वहां ले जाकर दोनों बच्चों को चाकू से काट डाला। आरोपी ने उसके तीसरे बच्चे को भी मारने की कोशिश की, हालांकि वह आरोपी से छूटकर भाग गया। विनोद की पत्नी ने बताया कि हमारी उससे कोई रंजिश नहीं थी। यह किसी की साजिश है।आरोपी पहले कभी घर नहीं आया, आरोपी उसकी ब्यूटी पार्लर की दुकान से कभी-कभार नई करेंसी ले लेता था। पुलिस ने तहरीर के आधार पर हत्या की धारा में रिपोर्ट दर्ज की है। बदायूं में तनाव का माहौल है। पुलिस बल तैनात है।मृतक बच्चों के पिता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी साजिद और उसके भाई जावेद के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। एफआईआर में लिखा है कि आरोपी साजिद ने मेरी पत्नी से कहा कि उसे रुपये चाहिए क्योंकि उसकी पत्नी बच्चे को जन्म देने वाली है। जब वह पैसे लेने के लिए अंदर गई, तो उसने कहा कि वह अस्वस्थ महसूस कर रहा है और छत पर टहलने जाना चाहता है। वो मेरे बेटों को भी साथ ले गया। इसी दौरान उसने अपने भाई जावेद को भी छत पर बुला लिया। जब मेरी पत्नी लौटी, तो उसने साजिद और जावेद को हाथों में चाकू देखे। साजिद ने मेरे तीसरे बेटे पर भी हमला करने की कोशिश की, जिसमें वह घायल हो गया। भागते हुए आरोपी साजिद ने मेरी पत्नी से कहा कि आज उसने अपना काम पूरा कर लिया है।

बदायूं में दो भाइयों की गला रेतकर हत्या, पुलिस ने एक आरोपी किया ढेर
बदायूं की बाबा कॉलोनी में मंगलवार रात करीब आठ बजे ठेकेदार विनोद ठाकुर के दो बेटों आयुष (13) और अहान (6) की धारदार हथियार से निर्मम हत्या कर दी गई। जिस जगह वारदात हुई वह मंडी समिति पुलिस चौकी से सिर्फ 500 मीटर दूर है। आरोपियों के दूसरे समुदाय के होने से गुस्सा भड़क उठा। जाम लगाकर हंगामा करते हुए दूसरे समुदाय के तीन खोखों में आग लगा दी।इसके बाद पुलिस ने आरोपी साजिद को मौके से करीब दो किमी. दूर पुरानी चांदमारी के पास घेराबंदी कर मुठभेड़ में ढेर कर दिया। उसके दो साथियों की तलाश की जा रही है। पुलिस हत्या की वजह पता कर रही है।

जानकारी के अनुसार, बाबा कॉलोनी में मजिया रोड के रहने वाले ठेकेदार ‘हर घर जल योजना’ के तहत ओवरहेड टैंक का निर्माण कराते हैं। उनके मकान के सामने ही कस्बा सखानू के रहने वाले साजिद की बाल काटने की दुकान है।विनोद की पत्नी संगीता अपने मकान के निचले हिस्से में ब्यूटी पार्लर चलाती हैं। इसके चलते परिवारों के काफी अच्छे संबंध थे। साजिद का उनके घर आना जाना भी था। मंगलवार रात संगीता तीन बच्चों आयुष, अहान और पीयूष (8) के साथ घर पर थीं, जबकि विनोद लखीमपुर खीरी गए हुए थे। साजिद शाम चार बजे दुकान बंद करके चला गया थासाजिद रात आठ बजे अपने दो साथियों के साथ आया तो संगीता उनके लिए चाय बनाने अंदर को चली गईं। तभी साजिद उनके दो बेटों आयुष और अहान को अपने साथ ऊपर ले गया। साथ ही, पीयूष से पानी लाने के लिए कहा।जब तक वह पानी लेकर ऊपर पहुंचा तब तक साजिद ने धारदार हथियार से आयुष और अहान की हत्या कर दी। सामने आए पीयूष पर भी चाकू से वार किया तो वह चीखता हुआ नीचे भागा। पीयूष के पीछे साजिद भी दौड़ा तो यह देख मां ने शोर मचाया। शोर सुनकर आसपास के लोग दौड़े और मां-बेटे को बाहर खींचकर दरवाजा बंद कर दिया।


आरोपी की दुकान के साथ, चार दुकानें फूंकी
सूचना पर पहुंची पुलिस साजिद की तलाश में जुट गई। इस बीच आसपास के लोग बड़ी संख्या में इकट्ठा हो गए। नृशंस हत्या देख उनका गुस्सा बढ़ने लगा। इधर आक्रोशित भीड़ ने साजिद की दुकान तोड़कर सामान निकाला और सड़क पर रखकर फूंक दिया। आसपास के चार दुकानों को आग के हवाले कर दिया। लोग एक समुदाय के धर्मस्थल तक पहुंच गए लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक लिया।

भारी संख्या में बल तैनात
आगजनी के बाद गुस्साए लोग पुलिस चौकी पहुंच गए। वहां घेराव कर नारेबाजी करने लगे। सूचना पर एसएसपी पहुंचे और अन्य अफसरों के साथ मिलकर उन्हें समझाया। क्षेत्र में हालात नियंत्रण के लिए भारी पुलिस और अर्धसैनिक बल तैनात कर दिया। बाद में खबर मिली कि साजिद को पुलिस ने मुठभेड़ में ढेर कर दिया।

Share This Post :




Comments




Add New Comment

Your comment has been queued for review by site administrators and will be published after approval.
Something is wrong please try again !!!





Top 10 Posts
IPL 2024: कप्तानी विवाद पर रोहित ने तोड़ी चुप्पी, बताया MI की…
भाजपा का मिशन दक्षिण भारत, केरल-तमिलनाडु पहुंचे पीएम मोदी; तेलंगाना में करेंगे…
राम नवमी की शुभकामनाएं अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को भेजें इन संदेशों…
Malvika Raaj on first V-day post wedding: We’ve been celebrating it for…
BJP से गठबंधन के लिए 50% तैयार हो गए थे शरद पवार,…
"कभी मनोहर लाल जी की मोटरसाइकिल के पीछे बैठ कर हरियाणा घूमता…
622 करोड़ संपत्ति के साथ ये हैं जानिए हेमा मालिनी किस नंबर…
अब भी धधक रहा कूड़े का पहाड़ कब बुझेगी गाजीपुर लैंडफिल में…
45 की उम्र के बाद अचानक महिलाओं में क्यों बढ़ जाता है…
Lok Sabha Elections 2024: अधिसूचना जारी विस्थापित कश्मीरी पंडितों के लिए दिल्ली…
Call Now : +91 93503 09890
| Email : parichaytimes@gmail.com
Follow On
1st Floor, Parichay Complex, 4-5, Madhuban Rd, Veer Savarkar Block, Dayanand Colony, Shakarpur, Delhi, 110092
@Copyright 2024 - Parichay Times

App Install